कंप्यूटर Memory Kya Hai-(What Is Memory)?

कंप्यूटर मेमोरी वह स्टोरेज स्पेस होता है जहां डाटा को प्रोसेस करना होता है, और प्रोसेसिंग के लिए आवश्यक निर्देश संग्रहित (Store) होते हैं, मेमोरी वह जगह है जहां कंप्यूटर, प्रोग्राम और डाटा को संग्रहित करता है.

कंप्यूटर Memory Kitne Prakar Ki Hoti Hai–

कंप्यूटर मेमोरी दो प्रकार की होती है. 1. प्राथमिक मेमोरी (Primary Memory) 2. सेकेंडरी मेमोरी (Secondary Memory)

Primary Memory Kya Hai-(प्राइमरी मेमोरी क्या होती है)-

Primary Memory Kya Hai जो की कम्प्यूटर की मुख्य मेमोरी है जो Motherboard में CPU से लगी हुई होती है | सीपीयू के प्रोसेसिंग के लिए आवश्यक सभी डेटा प्राइमरी मेमोरी में स्टोर होती है | यह कंप्यूटर की इंटरनल मेमोरी है | जिसे Main Memory और Primary Memory के नाम जाता है |

प्राइमरी मेमोरी कितने प्रकार की होती है

1. RAM- Random Access Memory  2. ROM- Read Only Mermory

Ram तीन प्रकार की होती है –

1. (स्टैटिक रैम) Static Ram 2. (डायनामिक रैम) Dynamic Ram 3. (सिंक्रोनॉस रैम) Synchronous Ram

R.O.M रोम तीन प्रकार की होती है –

1– PROM Full From Of PROM- Programmable Read-Only Memory 2– EPROM Full From Of EPROM- Erasable Programmable Read-Only Memory 3– EEPROM Full From Of EEPROM– Electrically Erasable Programmable Read-Only Memory

Primary Or Secondary Memory Me Kya Antar Hota Hai –

प्राइमरी और सेकेंडरी मेर्मोरी में क्या अंतर होता है जानने के लिए LEARN MORE पर क्लिक करे.

Secondary Memory Kya Hai-

सेकेंडरी स्टोरेज डिवाइस कंप्यूटर का एक हार्डवेयर कंपोनेंट है इसे सहायक स्टोरेज डिवाइस भी कहा जाता है। यह कंप्यूटर का एक हिस्सा है जिसे अलग से कंप्यूटर से जोड़ा जाता है। इसमें स्टोर किया गया डेटा स्थायी होता है, यानी कंप्यूटर के बंद होने पर स्टोर किया गया डेटा डिलीट नहीं होता है। सेकेंडरी मेमोरी में फ्लॉपी डिस्क, हार्ड डिस्क, कंपैक्ट डिस्क, ऑप्टिकल डिस्क, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव, एसएसडी इत्यादि आते हैं

Secondary Memory Kitne Prakar Ki Hoti Hai-

सेकेंडरी मेमोरी के प्रकार – Hdd, CD Drive, Dvd, Pendrive, Blue-Ray Disc, Ssd, Memory Card.