Topology Ke Prakar – टोपोलॉजी के प्रकार

1. बस टोपोलॉजी (Bus Topology) – 2. रिंग टोपोलॉजी (Ring Topology) – 3. स्टार टोपोलॉजी (Star Topology) 4. मेश टोपोलॉजी (Mesh Topology) 5. ट्री टोपोलॉजी (Tree Topology) 6. हाइब्रिड टोपोलॉजी (Hybrid Topology)

Topology Kya Hai-

टोपोलॉजी नेटवर्क के डिजाईन को कहा जाता है जो दो ग्रीक शब्द टोपो और लॉजी से मिलाकर बना होता है जहाँ टोपो का मतलब स्थान और लॉजी का मतलब अध्ययन होता है। 

1-Bus Topology-बस टोपोलॉजी:-

BUS TOPOLOGY एक ऐसा नेटवर्क सेटअप है जिसका प्रत्येक नोड्स एक ही सिंगल केबल से कनेक्टेड होता है जिसे बैकबोन भी कहा जाता है। 

2. Ring Topology-रिंग टोपोलॉजी:-

रिंग टोपोलॉजी में सारे कंप्यूटर डिवाइस एक रिंग के रूप में एक दूसरे से कनेक्टेड रहते है इस टोपोलॉजी के अन्दर कोई भी कंप्यूटर होस्ट या फिर मेन कंप्यूटर नही होता है। 

Title 2

3- Star Topology-स्टार टोपोलॉजी –

इस टोपोलॉजी में एक होस्ट या मुख्य कंप्यूटर होता है जिससे सभी लोकल कंप्यूटर जुड़े होते है इसमें सभी लोकल कंप्यूटर आपस में नहीं जुड़े होते है इसमें होस्ट कंप्यूटर सर्वर की तरह कार्य करता है और सभी लोकल कंप्यूटर क्लाइंट की तरह कार्य करते है. 

4 – Mesh Tolplogy-मेष टोपोलॉजी:

इसमें जुड़े सारे नोड्स के केबल जुड़ने के बाद एक जाल के आकार की तरह दिखता है और मेष का हिंदी मीनिंग जाल होता है इसीलिए इसे मेष टोपोलॉजी कहा जाता है। 

5.- Tree Topology- ट्री टोपोलॉजी:-

ट्री टोपोलॉजी एक विशेष प्रकार की सरंचना होती है जो स्टार टोपोलॉजी और बस टोपोलॉजी से मिलकर बना होता है इसके सारे नोड्स आपस मिलकर पेड़ का आकार बनाते है इसी कारण इसे ट्री टोपोलॉजी कहा जाता है 

6- Hybrid Topology-हाइब्रिड टोपोलॉजी:-

दो या दो से अधिक नेटवर्क टोपोलॉजी से मिलकर बने टोपोलॉजी को हाइब्रिड टोपोलॉजी कहा जाता है इस टोपोलॉजी में बस टोपोलॉजी, मेष टोपोलॉजी, स्टार टोपोलॉजी, रिंग टोपोलॉजी, ट्री टोपोलॉजी शामिल होते है।