Data Kya Hota Hai, Data के प्रकार और डाटा कैसे प्रोसेस किया जाता है.

आज हम यह जानेंगे के data kya hota hai, Data को कंप्यूटर में कैसे Store करते है, data के प्रकार, कंप्यूटर डाटा को किस तरह प्रोसेस करता है, data ke upyog के बारे में आपको स्टेपानुसार बताने वाले है.

data kya Hota hai- डाटा क्या है-

Data जानकारी का एक टुकड़ा होता है। यानि जानकारी बहुत सारे डाटा से मिलके बनते है। Data का Latin word में original meaning Datum है।

लेकिन English में इसका used बहुत काम होता है। इसी लिए datum से data बना है। और एक डाटा Numbers को refers करता है, जिसमे words, text, sounds, images, videos आदि शामिल होता है।

यानि डेटा कुछ भी और किसी भी format में हो सकता है। जैसे की text, numbers, images, file, folder, आदि।

Data को कंप्यूटर में कैसे Store करते है-

कंप्यूटर में डाटा को अलग अलग तरह के फॉर्मेट में स्टोर किया जाता है। डाटा को स्टोर करने के लिए कंप्यूटर में इंटरनल और एक्सटर्नल डिवाइस का उपयोग किया जाता है।

कंप्यूटर में डाटा को स्टोर करने के लिए हार्ड ड्राइव और स्टोरेज डिवाइस का उपयोग किया जाता है। कंप्यूटर की मेमोरी में डाटा को सटोरे करने के लिए तो तरह से उपयोग किया जाता है। जिसमे Permanent Storage और Temporary Storage शामिल है।

Permanent Storage – Permanent Storage कंप्यूटर की हार्ड ड्राइव को कहते है। अगर आप अपना सारा डाटा इस डिवाइस में स्टोर करते है, तो वह पूरी तरह से सुरक्षित रहता है।

Temporary Storage – Temporary Storage को हम Random Access Memory (RAM) के नाम से भी जानते है। जहाँ पर आप अपने डाटा को Temporary रूप से स्टोर कर सकते है।

Data Storage Capacity

1 Bit1 Binary Digit
4 Bits1 Nibble
8 Bits1 Byte
210 = 1024 Bytes1 Kilobyte
220 = 1024 Kilobyte1 Megabyte
230 = 1024 Megabyte1 Gigabyte
240 = 1024 Gigabyte1 Terabyte
250 = 1024 Terabyte1 Petabyte

data के प्रकार – Types Of Data In Hindi-

Data TypeWhere it is usedExample
BooleanTo represent Logical ValuesTrue False
CharacterFor encoding the text numerically97 (in ASCII 97 is a lower case ‘a’)
Float (Floating Point)Number having a decimal point9.15 5.03 0.125
IntegersWhole Number74 124 99009
StringAlphanumeric CharactersHello world ram gopal123

कंप्यूटर में जो डाटा हमें दिखाई देता है। वह संख्यात्मक रूप में होता है numerical डेटा में 0 से लेकर 9 तक की संख्याएं होती है। numerical डाटा को statistical डाटा भी कहा जा सकता है क्योंकि यह आंकड़े दर्शाते हैं।

उदाहरण के लिए जब हम कंप्यूटर पर excel शीट पर किसी time, height, width अमाउंट के रूप में terms को इंटर करते हैं। तो इस डाटा को हम माप (measure) सकते हैं।

अतः संक्षेप में कहें तो जब हम डाटा के लिए संख्याओं का उपयोग करते हैं तो न्यूमेरिकल डाटा का इस्तेमाल होता है

Letters-

दोस्तों हम आम तौर पर कंप्यूटर में display लैंग्वेज को समझकर विभिन्न task को पूरा करते हैं। इसलिए किसी भी भाषा हिंदी या इंग्लिश उर्दू या किसी भी भाषा के लिए alphabets डाटा का इस्तेमाल होता है। अतः हम कह सकते हैं कि letters डाटा कंप्यूटर का इस्तेमाल करने के लिए बेहद जरूरी है।

Alpha Numeric Data-

अल्फा न्यूमैरिक डाटा इस डाटा को हिंदी में अक्षरांकीय आँकड़ा डाटा कहा जाता है। अल्फा न्यूमैरिक डाटा में नंबर तथा letters दोनों शामिल होते हैं।

अल्फा न्यूमैरिक डाटा का इस्तेमाल आमतौर पर strong पासवर्ड create करने, captcha fill करने के लिए भी किया जाता है।

अल्फान्यूमैरिक डाटा 1a2b3c इस प्रकार दिखाई देता है। यह short characters का बना होता है जो कि संख्याएं तथा अक्षर दोनों से मिलकर बना होता है।

Audio Data-

ऑडियो डाटा कंप्यूटर के लिए तथा स्मार्टफोन दोनों के लिए बेहद महत्वपूर्ण होता है। यह डाटा audio के माध्यम से ध्वनि उत्पन्न करते हैं।

इस तरह के डाटा में गाने तथा रिकॉर्डिंग शामिल होती है जिन्हें हम केवल सुन सकते हैं परंतु देख नहीं सकते इसके कुछ फॉर्मेट जैसे MP3, wav आदि होते हैं।

Video Data-

वकंप्यूटर् पर सामान्यतः आप भी कई प्रकार की videos देखते होंगे। वह डाटा जो video डिस्प्ले करने के लिए इस्तेमाल होता है। वह वीडियो data होता है।

डिजिटल वीडियो एक इलेक्ट्रॉनिक प्रेजेंटेशन होती है। वीडियो डाटा के encoding फॉर्मेट्स में MP4, webm, mkvआदि फॉर्मेट शामिल होते हैं।

Graphical Data-

वह डेटा जो visual images के रूप में होता है।कंप्यूटर में ग्राफिकल डाटा का विशेष महत्व है जिसकी सहायता से चीजों को present तथा समझने में सहायता मिलती है।

डाटा का इतिहास – History Of Data In Hindi

1640 ई० में पहली बार इंग्लिश में data शब्द का इस्तेमाल किया गया। उसके बाद कंप्यूटर की दुनिया के लिए डाटा शब्द का इस्तेमाल पहली बार वर्ष 1946 में कंप्यूटर के डाटा को store एवं ट्रांसफर करने हेतु किया गया।

जबकि डाटा प्रोसेसिंग शब्द का इस्तेमाल पहली बार 1954 में किया गया। तो दोस्तों आज के इस लेख में इतना ही उम्मीद है इस लेख को पढ़ने के बाद आपको डाटा से संबंधित कई जानकारियां प्राप्त हुई होंगी।

डाटा क्या है यह विस्तार से समझ लेने के बाद अब हम डाटा से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारियां हासिल करते हैं.

कंप्यूटर डाटा को किस तरह प्रोसेस करता है?

जब भी हम कंप्यूटर को कोई Command या instructions देते हैं तो कंप्यूटर इस प्रकार डाटा को प्रोसेस करता है। जब कंप्यूटर किसी भी डाटा को प्रोसेस करता है,

तो सबसे पहले Input चाहिए अर्थात जब भी आप अपने कंप्यूटर को इंस्ट्रक्शन देते हैं। मान लीजिए आप अपने कीबोर्ड से कोई Key दबाते हैं तो कंप्यूटर को इनपुट मिल जाता है।

data kya hota hai

Process-

उसके बाद आपके द्वारा दिए गए निर्देश से कंप्यूटर को जो Input मिला है, उसे प्रोसेस करने के लिए कंप्यूटर को एक प्रोग्राम की आवश्यकता होती है, एक Typical प्रोग्राम जो कि उस डाटा को ऑर्गेनाइज,

manipulate करने के बाद उस डाटा को इंफॉर्मेशन में तब्दील कर सके। दोस्तों इसे इंफॉर्मेशन में इसीलिए कन्वर्ट किया जाता है ताकि उस information को एक इंसान समझ सके और उसे पढ़ सके।

Output-

और जब इस तरह इंफॉर्मेशन में किसी डाटा को तब्दील कर दिया जाता है तो तीसरे स्टेप में इस इनफार्मेशन को Output के रूप में show कर दिया जाता है Example के लिए यदि हम अपने कीबोर्ड से कुछ भी टाइप करते हैं तो वह अपने मॉनिटर स्क्रीन पर show होता है।

Storage-

डाटा प्रोसेसिंग के के बाद ही सारा कार्य खत्म नहीं हो जाता। अंत में उस डाटा को स्टोर करने के लिए कंप्यूटर को स्टोरेज डिवाइस की आवश्यकता पड़ती है ताकि उस इंफॉर्मेशन का इस्तेमाल भविष्य में भी किया जा सके।

data ke upyog- डाटा का उपयोग?

इस डिजिटल वर्ल्ड में data का सबसे अधिक इस्तेमाल सोशल मीडिया, e-commerce कंपनियों तथा वेबसाइट पब्लिशर्स द्वारा सबसे अधिक किया जा रहा है। यदि हम डाटा को किसी व्यापार के नजरिए से देखें तो इसकी अहमियत काफी बढ़ चुकी है।

सबसे पहले यदि आपके व्यापार का कोई फेसबुक पेज वेबसाइट या youtube channel है तो आपको नए कस्टमर के बारे में जानकारी देने में data बेहद सहायकपूर्ण होता है।

निकर्ष-

  • जैसा की आज हमने आपको के data kya hota hai, Data को कंप्यूटर में कैसे Store करते है, data के प्रकार, कंप्यूटर डाटा को किस तरह प्रोसेस करता है, data ke upyog के बारे में आपको बताया है.
  • इसकी सारी प्रोसेस स्टेप बाई स्टेप बताई है उसे आप फोलो करते जाओ निश्चित ही आपकी समस्या का समाधान होगा.
  • यदि फिर भी कोई संदेह रह जाता है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट कर सकते और पूछ सकते की केसे क्या करना है.
  • में निश्चित ही आपकी पूरी समस्या का समाधान निकालूँगा और आपको हमारा द्वारा प्रदान की गयी जानकरी आपको अच्छी लगी होतो फिर आपको इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है.
  • यदि हमारे द्वारा प्रदान की सुचना और प्रक्रिया से लाभ हुआ होतो हमारे BLOG पर फिर से VISIT करे हम ही TECHNICAL PROBLEM का समाधान करते है. और यदि तुरंत सेवा लेना चाहते हो तो हमारे साईट के Contact Us में जाकर हमसे Contact भी कर सकते है.

Leave a Comment