CTET Kya Hai, CTET Full Form, CTET परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

आज हम जानेंगे की CTET kya hai, CTET Full Form in Hindi, CTET सर्टिफिकेट कितने साल तक VALID है, CTET के लिए योग्यता, CTET परीक्षा की तैयारी कैसे करें, CTET Age Limit, CTET Syllabus in hindi, CTET के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, CTET करने के बाद क्या करे जिसकी पूरी प्रोसेस हम Step By Step Process आपको बताने वाले है.

CTET kya hai-

आज हम जानेंगे की CTET kya hai और ctet से जुडी सारी जानकारी हिंदी में आपको बताने वाले है-

CTET परीक्षा प्राइमरी शिक्षक बनने के लिए आयोजित कराई जाती है। इस परीक्षा का उद्देश्य शिक्षक की योग्यता को जांचना है।

अगर आप एक प्राइमरी शिक्षक बनना चाहते है, तो आपको CTET Exam को पास करना पड़ेगा। इस एग्जाम में टीचर की मानसिक, व्यवहारिकता की जांच की जाती है।

यह एग्जाम पास करने के लिए आपको पूरी मेहनत से पढ़ाई करने की आवश्यकता होती है। जब आप CTET पास कर लेते है, तो इसके बाद आप कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के छात्रों को पढ़ाने के लिए योग्य हो जाते है।

इस परीक्षा को राज्य स्तर पर आयोजित किया जाता है, इस सीटीईटी परीक्षा को भारत के सभी राज्यों में मान्यता प्राप्त है।

इस परीक्षा को कराने के लिए सरकार का मुख्य उद्देश्य है, की छात्रों को एक अच्छा शिक्षक मिल सकते। इसलिए इस एग्जाम के द्वारा परीक्षा देने वाले उम्मीदवार की मानसिकता और व्यावहारिकता को जांचा जाता है।

यह परीक्षा CBSE Board आयोजित कराता है, यह भारत के सभी राज्यों में आयोजित कराई जाती है, आप इस परीक्षा को पास करने के बाद किसी Private School में भी पढ़ा सकते है।

CTET Full Form in Hindi-

अब तक हमने जाना है की ctet kya hai और अब हम जानेंगे की CTET Full Form in Hindi क्या है-

CTET की फुल फॉर्म English में “Central Teacher Eligibility Test” और हिंदी में सीटीईटी का पूरा नाम “केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा” होता है।

CTET सर्टिफिकेट कितने साल तक VALID है-

इससे पहले CTET सर्टिफिकेट की वैधता 7 वर्ष तक ही होती है पर अब NCTE द्वारा CTET सर्टिफिकेट की वैधता आजीवन कर दिया है आप यदि इस परीक्षा को एक बार पास कर लेते है तो उसकी मान्यता लाइफ टाइम के लिए रहेगा।

CTET के लिए योग्यता-

यदि हम बात करें CTET qualification in Hindi की तो जैसा की हमने जाना की ctet को दो पेपर में आयोजित कराया जाता है जिसमें दोनों के लिए अलग-अलग qualification की जरूरत होती है।

CTET First Paper के लिए योग्यता-

CTET का पहला पेपर पास करने के बाद आप कक्षा एक से कक्षा पाँचवी तक के छात्रों को पढ़ाने के लिए एलिजबल होते है जिसके लिए आपको 12th कम से कम 50% मार्क्स से पास होने चाहिए।

वही ctet की पहली पेपर के परीक्षा में बैठने के लिए आपका 12th के साथ DEd कोर्स करना अनिवार्य है।

CTET Second Paper के लिए योग्यता-

वही यदि हम बात करें CTET के दूसरे पेपर के लिए योग्यता की तो इसके लिए आपको 12th कम से कम 50% मार्क्स के साथ-साथ किसी भी विषय से स्नातक पास होना अनिवार्य है।

वही स्नातक के बाद आपको सीटेट का दूसरा पेपर देने के लिए Bed कोर्स भी पूरा करना होता है जिसके बाद ही आप Ctet के दूसरे पेपर के परीक्षा में बैठने के लिए योग्य माने जाते है।

वही यदि आप CTET Second Paper के लिए योग्य है तो आप Ctet के पहले पेपर के परीक्षा में भी बैठ सकते है।

CTET Age Limit – CTET के लिए आयु सीमा-

सीटीईटी परीक्षा के लिए आयु सीमा निर्धारण किया जाता है जिसके आधार पर कैंडिडेट की कम से कम (Minimum) Age 18 year अनिवार्य है लेकिन Maximum आयु सीमा कोई प्रावधान नहीं है। इसी के साथ candidate भारत (India) से होना जरुरी है।

CTET परीक्षा की तैयारी कैसे करें?-

अगर आप अध्यापक बनने के लिए CTET परीक्षा देना चाहते हैं तो सोच रहे होंगे कि CTET परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

यहां पर आपको कुछ ऐसे स्टेप्स बताए गए हैं जिनका पालन करके आप बढ़िया तैयारी कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं CTET परीक्षा की तैयारी कैसे करें:

पाठ्यकर्म (Syllabus) व परीक्षा Pattern देखें:- आप जिस भी भर्ती की तैयारी कर रहे हैं उसका Syllabus & Pattern ध्यान में रखना बहुत आवश्यक होता है।

क्योंकि जब तक आप को यह नहीं पता होगा कि आपने क्या पढ़ना है और परीक्षा में क्या आएगा तो आप बेमतलब का समय व्यर्थ करेंगे।

इसलिए अपनी तैयारी करने से पहले सिलेबस और परीक्षा पैटर्न को जरूर देख लें और उसी के हिसाब से Topics cover करें।

समय सारणी (Time table) निश्चित करें:- आप चाहे CTET की तैयारी कर रहे हैं या कोई और एक सही Time Table का होना बहुत जरूरी है।

क्योंकि आपके डेली रूटीन और पढ़ाई के समय में संतुलन होना बहुत जरूरी है यानी कि पढ़ने के समय क्या जरूरी कामों पर ध्यान ना दें।

NCERT books पढ़ें:- अगर आप सीटीईटी की तैयारी कर रहे हैं तो आप एनसीईआरटी books जरूर पढ़ें क्योंकि NCRT books कोई भी भर्ती के लिए best होती हैं और deep study के लिए सर्वोत्तम साबित होती हैं।

पुराने प्रश्न पत्रों (Old Papers) पर Practice करें:- कंपटीशन की तैयारी में Previous year Papers अहम रोल अदा करते हैं क्योंकि पुराने प्रश्न पत्रों से आपको idea लग जाता है कि आपको किस तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं।

Mock Test करें:- कंपटीशन की तैयारी कर रहे हैं बीच-बीच में खुद का टेस्ट जरूर लें, जिसमें आप Mock Test रख सकते हैं। ऐसा करने से आपको पता चलता रहेगा की आप की तैयारी किस लेवल तक हो चुकी है।

CTET Syllabus in hindi – CTET Exam Pattern-

जैसा की हमने जाना Ctet Kya Hota Hai में की CTET को दो पेपर मे आयोजित कराया जाता है तो हम दोनों पेपर का परीक्षा पैटर्न एक-एक कर के जानते है।

CTET Paper -1Exam Pattern

CTET के पहले पेपर में पूरे 150 सवाल होते है सभी सवाल MCQ बेस्ड होते है इसमें 5 विषय सामील होते है वही प्रत्येक विषय से पूरे तीस सवाल पूछे जाते है और प्रत्येक सवाल एक मार्क्स के होते है।

वही पूरा मिलाकर यह पेपर 150 नंबर का होता है जिसे बनाने के लिए 02:30 घंटे का समय अवधि दिया जाता है बहुतों का यह भी सवाल होता है की CTET परीक्षा पास करने के लिए कितना नंबर लाना जरूरी होता है या CTET के लिए पासींग मार्क्स क्या है।

तो इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको 150 में से कम से कम 90 मार्क्स लाना अनिवार्य होता है Ctet पेपर 1 का परीक्षा पैटर्न कुछ इस प्रकार है।

यदि आप इस परीक्षा को पास कर लेते है तो इसके बाद आप कक्षा एक से लेकर पाँच तक के शिक्षक के लिए आवेदन कर सकते है।

विषयसवालों की संख्यामार्क्ससमय अवधि
Mathematics30302.5 hours
Language I (compulsory) 3030
Language II (compulsory) 3030
Environmental Studies3030
Child Development and Pedagogy3030
Total150150

CTET Paper -2 Exam Pattern

CTET का दूसरा पेपर भी 150 मार्क्स का होता है जिसमें पूरे 150 सवाल पूछे जाते CTET के दूसरे पेपर में आपको Mathematics & Science और B. Social Studies & Social Science में से किसी एक का चयन करना होता है

विषयसवालों की संख्यामार्क्ससमय अवधि
Child Development and Pedagogy30302.5 hours
Language I (compulsory) 3030
Language II (compulsory) 3030
A. Mathematics & Science6060
B. Social Studies & Social Science6060
Total150150

यदि आप Mathematics और Science के शिक्षक बनना चाहते है तो Mathematics और Science का चुनाव करें सीटीईटी दूसरा पेपर का परीक्षा पैटर्न कुछ इस प्रकार से है।

CTET के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

अब हम आपको बताएंगे कि आप इस परीक्षा के लिए आवेदन किस तरह से कर सकते हैं। आपको यह कदम उठाने होंगे-

  • सबसे पहले सीटीईटी की वेबसाइट www.ctet.nic.in पर log in करें।
  • इसके बाद आपके सामने website का main page खुल जाएगा।
ctet kya hai , ctet ki full form in hindi
  • इस page पर दिए गए link fill the form पर क्लिक करें। इसके बाद आपके सामने फॉर्म की wind खुल जाएगी।
  • form में सभी मांगी गई जानकारी को भरें। जैसे नाम, पिता का नाम, मां का नाम, जन्म तिथि, शैक्षिक योग्यता आदि।
  • इस फार्म में आपको अपनी स्कैन्ड फोटो और हस्ताक्षर को भी अपलोड करना होगा। ध्यान रखें कि फोटो इमेज jpg/jpeg format में हो। 30 kb तक।
  • फार्म में आपको एक password भी भरना होगा। आपको बता दें कि यह वह 8 से लेकर 13 अंकों का होगा।
  • Form भरने के बाद एग्जाम फीस जमा करें। परीक्षार्थी ई चालान या ऑनलाइन मोड जैसे डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या नेट बैंकिंग के माध्यम से अपनी फीस जमा कर सकते हैं ।
  • फार्म भरने के बाद एक रजिस्ट्रेशन और एक एप्लीकेशन नंबर जेनरेट हो जाएगा।
  • फीस जमा करने के बाद confirmation page का print out अपने पास रख लें। और साथ ही यह सावधानी भी बरतें कि अपना password किसी को न बताएं।

CTET आवेदन शुल्क क्या है – CTET application form fees-

अब आपको CTET के आवेदन शुल्क के बारे में बताते हैं। अभी तक सामान्य और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए पेपर-1 या पेपर-2 के लिए 1000/- शुल्क निर्धारित है।

अगर अभ्यर्थी दोनों पेपर देना चाहता है तो उसे बतौर शुल्क 1200/- चुकाने होंगे। वहीं SC/ST अभ्यर्थियों के लिए पेपर-1 या paper-2 देने के लिए 500 चुकाने होंगे, जबकि दोनों पेपर को 600/-। इस आवेदन शुल्क पर जीएसटी भी चार्ज किया जाएगा

CTET करने के बाद क्या करे-

CTET को पास करने के बाद आपकी किसी भी सरकारी या गैर सरकारी स्कूल जैसे केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय ,ARMY Public School ,HTET इत्यादि जैसे स्कूल में शिक्षक के पद के लिए आवेदन कर सकते है।

यदि आपने पेपर 1 पास किया है तो आप कक्ष 1 से लेकर कक्षा 5 तक के छात्रों को पढ़ाने के लिए आवेदन कर सकते है ।

  • वही यदि आपने पेपर 2 पास कर लिया है तो आप कक्षा 6 से कक्षा 8 तक के छात्रों को पढ़ा सकते है।
  • आप देशभर के सरकारी स्कूलों में पढ़ाने के योग्य हो जाते हैं।
  • • इनमें केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय जैसे प्रतिष्ठित स्कूल भी शामिल हैं।
  • • आप प्राइवेट स्कूलों में भी अप्लाई कर सकते हैं।
  • • एक टीचर की सैलरी काफी अच्छी होती है।
  • • सरकारी टीचरों को भत्ते, पेंशन और पीएफ जैसी सुविधाएं मिलती हैं।
  • • CTET का स्कोर 7 साल तक वेलिड होता है। तो इस दौरान आप दूसरे कॉम्पिटीटिव एग्जाम की तैयारी भी कर सकते हैं।
  • • CTET exam में माइनस मार्किंग नहीं होती है।

आपने CTET exam pass karne ke इतने सारे फायदे पढ़ लिए। अब अगर आप भी CTET exam देने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको शुभकामनाएं।

निकर्ष-

  • जैसा की आज हमने आपको CTET kya hai, CTET Full Form in Hindi, CTET सर्टिफिकेट कितने साल तक VALID है, CTET के लिए योग्यता, CTET परीक्षा की तैयारी कैसे करें, CTET Age Limit, CTET Syllabus in hindi, CTET के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें, CTET करने के बाद क्या करे के बारे में आपको बताया है.
  • इसकी सारी प्रोसेस स्टेप बाई स्टेप बताई है उसे आप फोलो करते जाओ निश्चित ही आपकी समस्या का समाधान होगा.
  • यदि फिर भी कोई संदेह रह जाता है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट कर सकते और पूछ सकते की केसे क्या करना है.
  • में निश्चित ही आपकी पूरी समस्या का समाधान निकालूँगा और आपको हमारा द्वारा प्रदान की गयी जानकरी आपको अच्छी लगी होतो फिर आपको इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है.
  • यदि हमारे द्वारा प्रदान की सुचना और प्रक्रिया से लाभ हुआ होतो हमारे BLOG पर फिर से VISIT करे हम ही TECHNICAL PROBLEM का समाधान करते है. और यदि तुरंत सेवा लेना चाहते हो तो हमारे साईट के Contact Us में जाकर हमसे Contact भी कर सकते है.

Leave a Comment