Phd Kya Hai, जाने Phd Kaise Kare, Phd से जुडी सम्पूर्ण जानकारी in 2022

आज हम आपको phd kya hai, phd in hindi, phd ka full form kya hai, phd kaise kare के बारे में आपको हम Step By Step बताने वाले है.

phd kya hai , Phd क्या होता है?-

आज हम जानेंगे की Phd Kya Hai और पीएचडी एक स्नातकोत्तर (Postgraduate) डॉक्टरेट (Doctoral) की डिग्री है, जो उन छात्रों को प्रदान की जाती है जो अपने विषय में ज्ञान के लिए एक महत्वपूर्ण योगदान देने वाले एक प्रमुख शोध को पूरा करने की पुर्णतः कोशिश करते है.

पीएचडी की डिग्री सभी विषयों में उपलब्ध हैं और आम तौर पर एक व्यक्ति को प्राप्त होने वाली सर्वोच्च शैक्षणिक डिग्री का उच्चतम स्तर है.

PhD कोर्स आमतौर पर तीन साल की अवधि का होता है जो उम्मीदवारों को अधिकतम पांच से छह वर्ष के अंतराल में कोर्स पूरा करना होता है.

phd ka full form kya hai ? –

  • अब तक हमने जाना है की Phd Kya Hai, लेकिन अब हम जानेंगे की phd ka full form kya hai.
  • PHD की Full Form होती हैं Doctor of Philosophy. पीएचडी की फुल फॉर्म हिंदी में है डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी।
  • ये एक Doctoral Degree होती हैं। जो भी पीएचडी का कोर्स पूरा कर लेता हैं उसके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता हैं।
  • आपने कई बार देखा होगा कई लोग अपने नाम के आगे डॉक्टर लगाते हैं और वो असल में मेडिकल डॉक्टर नहीं होते। असल में उन्होंने पीएचडी की होती हैं जिससे उनके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता हैं।

PHD किसे करनी चाहिए?

  • जिन लडको या लडकियों को पढाई में काफी रूचि हैं उन्ही के लिए ये कोर्स बना हैं। पीएचडी उन लोगो के लिए हैं जो कॉलेज की पढाई पूरी करने के बाद भी कुछ साल और पढाई को दे सकते हैं।
  • अगर आप चाहते हैं की किसी अच्छे College में Professor, Lecturer बनना या फिर आपको किसी एक टॉपिक पे research करनी हैं तो उसके लिए आपको पीएचडी कोर्स करना होता हैं।
  • कुछ ऐसे ही लोग हैं जो पहले से कोई नौकरी कर रहे हैं। वो अपने जॉब में प्रमोशन पाने या अपनी तनख्वाह में बढ़ोतरी के लिए भी पीएचडी करना चाहते हैं। ऐसे लोगो को सरकारी यूनिवर्सिटी से पार्ट टाइम पीएचडी कोर्स करना चाहिए।

पीएचडी करने के लिए योग्यता: Phd in Hindi-

पीएचडी में दाखिला लेने के लिए आपकी ग्रेजुएशन (BA/BCOM/BSC) पूरी होनी चाहिए।
ग्रेजुएशन के साथ में मास्टर डिग्री भी पूरी होनी चाहिए।
PHD में Admission के लिए आपको पहले Entrance Test Pass करना होता हैं जिसके लिए apply करने के लिए आपके minimum 55% मार्क्स होने चाहिए।
अगर आप engineering में phd करना चाहते हैं तो आपका एक valid Gate Score होना चाहिए।

phd kya hai (8)

PhD की तैयारी कैसे करें?

PhD की तैयारी करने के लिए आप पिछले साल के प्रश्नों की मदद भी ले सकते हैं इससे आपको पता चलेगा कि किस तरह के प्रश्न परीक्षा में पूछे जाते हैं
जिन स्टूडेंट्स ने पिछले साल का एग्जाम दिया हो आप उनसे भी कंसल्ट कर सकते हैं इससे आपको सहायता प्राप्त होगी।
आप जिस भी सब्जेक्ट से पीएचडी करना चाहते हैं आपको उस सब्जेक्ट पर ज्यादा ध्यान देना है। अपनी पिछली पढ़ाई में उन सब्जेक्ट पर अच्छे से ध्यान दें।

Ph.D कोर्स फ़ीस-

पीएचडी कोर्स की फीस इंस्टिट्यूट एवं संस्थान के अनुरूप अलग अलग होता है,  सरकारी संस्थान की फ़ीस प्राइवेट इंस्टिट्यूट की तुलना में कम होता है. पीएचडी कोर्स मुख्यतः 3 वर्ष का होता है जो  6 सेमेस्टर में बता हुआ होता है. 

 कॉलेज, इंस्टीट्यूट इस कोर्स की फीस समेस्टर या  वार्षिक अवधी का अनुशार मांग करते हैं. प्राइवेट इंस्टिट्यूट में पीएचडी कोर्स की  न्यूनतम फ़ीस 20000 से 30000 के करीब तथा अधिकतम फ़ीस 30000 से 50000 के बीच होता है.

जबकी सरकारी संस्थान में न्यूनतम फ़ीस 15000 से 25000 के बीच तथा अधिकतम फ़ीस 40000 तक होता है.

कॉलेज के अनुसार PhD in Hindi कोर्स फीस निम्न प्रकार हो सकता है.

Institute TypeMinimum FeeMaximum Fee
Private CollegeNIR 7,500NIR 7 lakh
Public CollegeNIR 3,500NIR 3 lakh

phd kaise kare – Phd कैसे करे ?

  • आपको किसी भी तरह की डिग्री करने के लिए आपको 12th पास होना जरूरी है। इसके लिए आप जब 10th पास कर लेते हैं तो उसके बाद से आपको वहीं सब्जेक्ट को चुनना चाहिए, जिस सब्जेक्ट्स में आप पीएचडी करना चाहते है,
  • आपको अपने इन सब्जेक्टस में 11th और 12th में अच्छे से पढ़ाई करनी है और हो सके जितने अच्छे अंकों के साथ पास होना है। आपके जितने मार्क्स ज्यादा होंगे उतनी ही आपको आगे पीएचडी करने में आसानी होगी और मदद मिलेगी।
phd kya hai (7)
  • जब आप अपनी 12th पूरी कर लेते हैं। फिर आपको जिस सब्जेक्ट में रूची हो उस सब्जेक्ट के लिए प्रवेश परीक्षा दें और इस एंट्रेंस एग्जाम को पूरा करें। फिर इसके बाद अपनी स्नातक पूरी करें।
  • आपको जिनता हो सके अच्छे अंकों के साथ पास होना है। जिनते अंक ज्यादा होंगे आपके लिए पीएचडी के लिए रास्ते उतने ही आसान बनते रहेंगे।
  • जब आपकी स्नातक पूरी हो जाती है तब फिर आपको पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए अप्लाई करना है। आपने जिस सब्जेक्ट में स्नातक की है, यदि आप उस सब्जेक्ट में ही अपनी मास्टर डिग्री करते हैं तो आपके लिए आसानी रहेगी।
  • ध्यान रहे कि आपको अपनी स्नातक और मास्टर डिग्री में कम से कम 60% तक अंक लाने है ताकि आगे एंट्रेंस एग्जाम के लिए कोई समस्या न हो।
  • पोस्ट ग्रेजुएशन पूरी हो जाती है तो आपको अब UGC Net Test देना होता है और आपको इसे क्लियर करना बहुत ही जरूरी होता है। इस एग्जाम के लिए आप कोचिंग भी ले सकते हैं।
  • ये प्रवेश परीक्षा थोड़ी कठिन होती है। UGC Net Exam पहले नहीं होता था। लेकिन अब पीएचडी करने के लिए इसे क्लियर करना अनिवार्य कर दिया गया है।
  • आप इस एग्जाम को क्लियर कर देते हैं तो आप पीएचडी के योग्य हो जाते हैं। अब आपको जिस कॉलेज या विश्वविद्यालय में पीएचडी करनी है, उस विश्वविद्यालय का एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करके आप पीएचडी में दाखिला ले सकते हैं।

पीएचडी में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

हम यहां पर कुछ Popular PhD Subjects बता रहे हैं। ज्यादातर लोग इन सब्जेक्टस में पीएचडी करना पसंद करते हैं।

  • Ph.D. in English
  • Ph.D. in Social Sciences
  • Ph.D. in Public and Economic Policy
  • Ph.D in Humanities & Social Sciences
  • Ph.D in Humanities and Life Sciences
  • Ph.D in Psychology
  • Ph.D in Arts
  • Ph.D in International Relations and Politics
  • Ph.D in Physiology
  • Ph.D in Public Policy
  • Ph.D in Literature
  • Ph.D in Chemistry
  • Ph.D in Clinical Research
  • Ph.D in Science
  • PhD in Bioscience
  • PhD in Bioinformatics
  • PhD Biotechnology
  • PhD in Mathematical and Computational Sciences
  • PhD in Environmental Science and Engineering
  • PhD in Applied Chemistry & Polymer Technology
  • PhD in Applied Sciences
  • PhD Zoology
  • PhD in Physics
  • PhD in Basic and Applied Sciences
  • Phd in Mathematics
  • PhD in Zoology
  • PhD in Commerce Management
  • PhD in Accounting and Financial Management

पीएचडी कोर्स करने के फायदे-

  • पीएचडी यानी डॉक्टर ऑफ़ फिलॉसफी करने से आपके नाम के आगे डॉक्टर लग जाता हैं जो आपके स्टेटस को बढ़ा देता हैं।
  • किसी भी College या University में Lecturer की पोस्ट के लिए PHD की डिग्री होने अनिवार्य होता हैं और जब आपके पास ये डिग्री होती है तो आप ये जॉब प्राप्त कर सकते हैं।
  • पीएचडी एक किसी ख़ास टॉपिक पर ही की जाती हैं। जिस Subject में आप पीएचडी करोगे आप उसके एक्सपर्ट कहलाओगे।
  • ये एक उच्च स्तरीय डिग्री होती हैं जिसकी वजह से पीएचडी करने के बाद बड़ी जॉब के लिए भी अप्लाई करने पर सेलेक्ट होने की संभावना काफी रहती हैं।
  • पीएचडी पूरी होने के बाद आप अपने पीएचडी टॉपिक पर Research कर सकते हैं।

Conclusion-

  • जेसा की आज हमने आपको phd kya hai, phd in hindi, phd ka full form kya hai, phd kaise kare के बारे में आपको बताया है.
  • इसकी सारी प्रोसेस स्टेप बाई स्टेप बताई है उसे आप फोलो करते जाओ निश्चित ही आपकी समस्या का समाधान होगा.
  • यदि फिर भी कोई संदेह रह जाता है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जाकर कमेंट कर सकते और पूछ सकते की केसे क्या करना है.
  • में निश्चित ही आपकी पूरी समस्या का समाधान निकालूँगा और आपको हमारा द्वारा प्रदान की गयी जानकरी आपको अच्छी लगी होतो फिर आपको इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है.
  • यदि हमारे द्वारा प्रदान की सुचना और प्रक्रिया से लाभ हुआ होतो हमारे BLOG पर फिर से VISIT करे हम ही TECHNICAL PROBLEM का समाधान करते है. और यदि तुरंत सेवा लेना चाहते हो तो हमारे साईट के Contact Us में जाकर हमसे Contact भी कर सकते है.

पीएचडी का कोर्स कितने साल का होता है?

PhD का duration आम तौर पर 3 साल का होता है। यानी 3 साल के अंदर आप अपनी पीएचडी की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं

12वीं के बाद पीएचडी कैसे करते हैं?

पीएचडी करने के लिए आपके 12वीं के बाद ग्रेजुएशन पास होना जरुरी है। इसके साथ ही आपकी मास्टर डिग्री में आपके 55% होना अनिवार्य है। आप जिस विषय में PhD करना चाहते है, उसी विषय से आपने मास्टर डिग्री होना चाहिए। इसके साथ ही PhD के लिए आपको Entrance Exam क्लियर करना जरुरी होता है

पीएचडी का पूरा नाम क्या है?

PHD का फुल फॉर्म “Doctor of Philosophy” होता हैं

कितने लोगों के पास पीएचडी है?

डॉक्टरेट डिग्री धारकों की संख्या दोगुनी से अधिक 4.5 मिलियन हो गई है। अब, लगभग 13.1 प्रतिशत अमेरिकी वयस्कों के पास उन्नत डिग्री है, जो 2000 में 8.6 प्रतिशत थी

पीएचडी करने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए?

पीएचडी में दाखिला लेने के लिए आपकी ग्रेजुएशन (BA/BCOM/BSC) पूरी होनी चाहिए।
ग्रेजुएशन के साथ में मास्टर डिग्री भी पूरी होनी चाहिए।
PHD में Admission के लिए आपको पहले Entrance Test Pass करना होता हैं जिसके लिए apply करने के लिए आपके minimum 55% मार्क्स होने चाहिए।
अगर आप engineering में phd करना चाहते हैं तो आपका एक valid Gate Score होना चाहिए।

Leave a Comment